Kind of Sentences (वाक्य के प्रकार)

Kind of Sentences (वाक्य के प्रकार)
Sentence निम्नलिखित पांच प्रकार के होते हैं l
        

1- Assertive Sentences (कथनात्मक वाक्य)
2- Interrogative Sentences (प्रश्नवाचक वाक्य)
3- Imperative Sentences (आज्ञासूचक वाक्य)
4- Exclamatory Sentences (विस्मय सूचक वाक्य)
5- Optative sentences (कामना सूचक वाक्य)

Assertive Sentences (कथनात्मक वाक्य)
ऐसा sentence जिसमे किसी कार्य का करना या होना स्पष्ट रूप से पाया जाता है या नहीं पाया जाता है Assertive Sentence कहलाता है Assertive Sentence 2 प्रकार का होता है l

1- Affirmative Sentences
2- Nigative Sentences

Affirmative Sentences (स्वीकारात्मक वाक्य)
ऐसा sentence जिसमे किसी कार्य का करना या होना स्पष्ट रूप से स्वीकार किया जाता है Affirmative Sentence कहलाता है l
 जैसे:-
 1- He plays football in the field.
 2- We are working on this project.

Negative Sentences (नकारात्मक वाक्य)
ऐसा वाक्य जिसमे किसी कार्य के करने या होने से साफ इंकार किया जाता है Negative Sentence कहलाता है l
जैसे:-
1- Ram is not learning his lesson.
2- My wife does not go for a walk daily.

Interrogative Sentences
ऐसे वाक्य जिनमे किसी प्रकार का प्रश्न पूछा जाता है अथवा sentence के अंत में ? का प्रयोग मिलता है Interrogative Sentence कहलाता है l
जैसे:-
1- Do you know Mahatma Gandhi?
2- what is your name?

 Interrogative Sentence 2 प्रकार का होता है l
 1- Yes or No questions
 2- Wh-questions

Yes or No Questions
ऐसा sentence जो किसी सहायक क्रिया (Do/does/is/are/am/was/were/has/have/had/will/shall/may/might/can/could/should/would/ought etc.) से प्रारम्भ, अर्थात जिसका उत्तर Yes or No में दिया जा सकता है, Yes or No question कहलाता है l
 जैसे:-
 1- Have you completed your work?.
 2- May I come in?.

Wh-Questions
ऐसा वाक्य जो किसी प्रश्नवाचक शब्द (What/why/where/when/how/who/whom/whose ect.)से शुरू होता है, अर्थात जिसका उत्तर हम हाँ अथवा न में नहीं दे सकते बल्कि उत्तर देने के लिए कुछ बोलना पड़ता है, Wh-Question कहलाता है l
 जैसे:-
1- Why are you going there?.

2- When does She go for a walk daily?

Imperative Sentence
ऐसे वाक्य जिनमें कोई आदेश, सुझाव, प्रस्ताव,अनुरोध, प्रार्थना आदि का भाव प्रकट होता है, Imperative sentence कहलाते है l
जैसे:-
1- Stand up on the bench. (आदेश)
2- Give me a glass of water, Please. (अनुरोध)
3- Let’s go for a swim. (प्रस्ताव)
4- You should helpthe poor. (सुझाव)

Exclamatory Sentences
ऐसे वाक्य जिनसे किसी आश्चर्य हर्ष, शोक, भय, करुणा, घृणा, आदि का बोध होता है, अर्थात वाक्य के अंत में exclamation mark (!) मिलता है, Exclamatory Sentences कहलाते हैं l
जैसे:-
1- What a fine morning this is! (आश्चर्य)
2- Alas! I am ruined. (शोक)
3- Hurrah! we have won the match. (हर्ष)
4- How disgusting!. (घृणा)

Optative Sentences
ऐसे वाक्य जिनसे कोई आशीर्वाद, अभिशाप, प्रार्थना या कामना प्रकट होती है, Optative Sentences कहलाते हैं l
जैसे:-
1- May you live long! (आशीर्वाद)
2- May you go to hell! (अभिशाप)
3- Wish you a happy journey! (कामना)
4- May God bless you with a child! (प्रार्थना)